Welcome in Bihar

Welcome In Bihar


बिहार भारत का एक महत्वपूर्ण राज्य है। इसकी राजधानी पटना है। बिहार के उत्तर में नेपाल,दक्षिण में झारखण्ड, पूर्व में पश्चिम बंगाल, पश्चिम में उत्तर प्रदेश और  स्थित है। बिहार नाम का प्रादुर्भाव बौद्ध सन्यासियों के ठहरने के स्थान विहार शब्द से हुआ, जिसे विहार के स्थान पर इसके अपभ्रंश रूप बिहार से संबोधित किया जाता है। यह क्षेत्र गंगा नदी तथा उसकी सहायक नदियों के उपजाऊ मैदानों के आसपास बसा है। प्राचीन काल के विशाल साम्राज्यों का गढ़ रहा यह प्रदेश, वर्तमान में देश की अर्थव्यवस्था के सबसे पिछड़े स्थान पर है | 
मुजफ्फरपुर का लिच्ची और भागलपुर का ामबिहार की गौरव में चार चाँद लगा देती है |  प्राचीन  काल से विश्व का गौरव कहे जाने वाले बिहार में वर्तमान साक्षरता दर बहुत कम है लेकिन परिस्थितियाँ दिन व दिन  बदल रही है और साक्षरता बढ़ रही है। यहाँ की मिट्टी बहुत ही उपजाऊ है तथा कृषि यहाँ के लोगों की मुख्य जीविका का श्रोत है।
सन् 1936 में ओडिशा तथा 2000 में  झारखण्ड के अलग हो जाने से बिहार ने कृषि के दम पर और अपने कड़ी म्हणत के बल पर उन्नति की है। आई आई टी , बीपीएससी और यूपीएससी जैसे कठिन परीक्षा में लगभग हर बार बिहार के प्रतिभागी छात्र अव्वल होते रहे हैं। इनकी बढ़ती निष्ठा और गौरवशाली इतिहास बिहार को एक बार फिर से अनोखा और विकसित बनता है 
कुल जनसंख्या                    10,38,04,637
    - पुरुष जनसंख्या                    5,41,85,347
    - महिला जनसंख्या                   4,96,19,290

जनसंख्या (0 ~ 6 वर्ष समूह)         1,85,82,229
  - पुरुष -                             96,15,280
  - महिला -                            89,66,949 
कुल जनसंख्या का                   17.9%
  - पुरुष जनसंख्या का -                17.75%
  - महिला जनसंख्या का  -              18.07%

कुल साक्षर जनसंख्या -               5,43,90,254 (63.82%)
  - पुरुष साक्षर जनसंख्या -              3,27,11,975 (73.39%)
  - महिला साक्षर जनसंख्या -            2,16,78,279 (53.33%)

दशक की जनसंख्या वृद्धि (2001-2011) - 2,08,06,128 (25.07%)
  - सर्वाधिक दसकीय जनसँख्या बृद्धि वाला जिला - मधेपुरा (30.65%)
  - सबसे कम दसकीय जनसँख्या बृद्धि वाला जिला - गोपालगंज (18.83%)

कुल जिला की संख्या - 38 

कुल प्रमंडलों की संख्या - 9 

कुल सब-डिवीज़न की संख्या - 101  

कुल प्रखंड की संख्या -  534 

कुल पंचायत की संख्या - 8463 

कुल शहरों की संख्या - 130 

कुल सिविल पुलिस स्टेशन - 813  

जनसंख्या का घनत्व 1,102 प्रति वर्ग किलोमीटर
  - उच्चतम जनसँख्या घनत्व वाला जिला  - शिवहर  1882 प्रति वर्ग किलोमीटर
  - न्यूनतम जनसँख्या घनत्व वाला जिला -  कैमूर, 488 प्रति वर्ग किलोमीटर

सर्वाधिक आबादी वाला जिला -  पटना: 57,72,804

सबसे कम आबादी वाला जिला शेखपुरा: - 6,34,927

लिंगानुपात (महिला / हजार पुरुष) -       916
  - उच्चतम लिंगानुपात -            गोपालगंज (1,015)
  - न्यूनतम लिंगानुपात -            मुंगेर  (879)

उच्चतम साक्षरता दर वाला जिला -   रोहतास  (75.59%)

न्यूनतम साक्षरता दर वाला जिला -    पूर्णिया  (52.49%)


जिले की औसत जनसंख्या -          27,31,701
    नोट - सभी आंकड़े जनगणना 2011 के अनुसार 
उद्योग एवं व्यवसाय 
बिहार  के प्रमुख उद्योग हैं -
·         मुंगेर में सिगरेट कारखाना आई टी सी
·         मुंगेर में आई टी सी की अगरबती माचिस तथा चावल आटा आदि का कारखाना 
·         मुंगेर में बंदुक फैक्टरी 
·         मुेंगेर के जमालपुर में रेल कारखाना
·         भागलपुर का सिल्क उधाेग
·         मुजफ्फरपुर और मोकामा में 'भारत वैगन लिमिटेड' का रेलवे वैगन संयंत्र,
         हरनौत का रैक कारखाना | 
·         बरौनी में भारतीय तेल निगम का तेलशोधक कारख़ाना
·         बरौनी का एच.पी.सी.एल. और अमझोर का पाइराइट्स फॉस्फेट एंड कैमिकल् लिमिटेड (पी.पी.सी.एल.) राज्य के प्रमुख उर्वरक संयंत्र हैं।
·         सीवान, भागलपुर, पंडौल, मोकामा और गया में बड़ी सूत कताई मिलें
·         उत्तर दक्षिण बिहार में 13 चीनी मिलें हैं, जो निजी क्षेत्र की हैं तथा 15 चीनी मिलें सार्वजनिक क्षेत्र की हैं जिनकी कुल क्षमता 45,00 टन 
·         पश्चिमी चंपारन, मुजफ्फरपुर और बरौनी का चमड़ा उद्योग 
·         कटिहार और समस्तीपुर में तीन बड़े पटसन के कारखाने
·         हाजीपुर में दवाएं बनाने का कारख़ाना औरंगाबाद और पटना में खाद्य प्रसंस्करण और वनस्पति बनाने के कारखाने
·         इसके अलावा बंजारी में कल्याणपुर सीमेंट लिमिटेड नामक सीमेंट कारखाने का बिहार के औद्योगिक नक्शे में महत्वपूर्ण स्थान  है।

शिक्षा

प्राचीन काल में बिहार शिक्षा के सर्वप्रमुख केन्द्रों में माना  जाता था। नालंदा विश्वविद्यालयविक्रमशिला विश्वविद्यालय तथा ओदंतपुरी विश्वविद्यालय प्राचीन बिहार के महत्वपूर्ण अध्ययन केंद्र थे। 1917 ई में पटना विश्वविद्यालय की स्थापना हुई | जो की बर्तमान समय में एक प्रमुख स्थान राक्ग्ता है | में पटना में एक IIT, NIT, NIFT और राष्ट्रीय प्राद्यौगिकी संस्थान तथा हाजीपुर का  केंद्रीय प्लास्टिक इंजिनियरिंग रिसर्च इंस्टीच्युट तथा केंद्रीय औषधीय शिक्षा एवं शोध संस्थान अपना प्रमुख स्थान रखता है | 

बिहार के प्रमुख  विश्वविद्यालय


  1.         महात्मा गाँधी केन्द्रीय विश्वविद्यालयमोतिहारीपूर्वी चम्पारण
  2.          दक्षिण बिहार केन्द्रीय विश्वविद्यालयबोधगया
  3.         बिहार कृषि विशवविधालय सबौरभागलपुर
  4.          पटना विश्वविद्यालयपटना
  5.          मगध विश्वविद्यालयबोधगया
  6.          बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर बिहार विश्वविद्यालयमुजफ्फरपुर
  7.          तिलका माँझी भागलपुर विश्वविद्यालयभागलपुर
  8.          ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालयदरभंगा
  9.          कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विश्वविद्यालयदरभंगा
  10.          जयप्रकाश नारायण विश्वविद्यालयछपरा
  11.          भूपेन्द्र नारायण मंडल विश्वविद्यालयमधेपुरा
  12.          वीर कुँवर सिंह विश्वविद्यालयआरा
  13.          नालंदा मुक्त विश्वविद्यालयपटना
  14.          मौलाना मजहरुल हक़ अरबी-फ़ारसी विश्वविद्यालय,पटना
  15.          राजेन्द्र कृषि विश्वविद्यालयपूसासमस्तीपुर
  16.          आर्यभट्ट ज्ञान विश्वविद्यालयपटना

प्रमुख चिकित्सा संस्थान


  1.          पटना मेडिकल कॉलेज और अस्पताल, पटना
  2.          इंदिरागाँधी आयुर्विज्ञान संस्थान, पटना
  3.          नालंदा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल, पटना
  4.          बुद्धा दंत चिकित्सा संस्थान एवं अस्पताल, पटना
  5.          श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज और अस्पताल, मुजफ्फरपुर
  6.          राय बहादुर टुनकी साह होमियोपैथिक कॉलेज और अस्पताल, मुजफ्फरपुर
  7.          अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज और अस्पताल, गया
  8.          दरभंगा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल, लहेरियासराय
  9.          कटिहार मेडिकल कॉलेज और अस्पताल, कटिहार
  10.          जवाहरलाल नेहरू मेडिकल काॅलेज और अस्पताल, भागलपुर
  11.          वर्धमान इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइन्स, पावापुरी, नालंदा

अन्य प्रमुख शैक्षणिक संस्थान


  1.          चाणक्य विधि विश्वविद्यालय, पटना
  2.          अनुग्रह नारायण सामाजिक परिवर्तन संस्थान, पटना
  3.          ललितनारायण मिश्रा सामाजिक परिवर्तन संस्थान, पटना
  4.          केंद्रीय प्लास्टिक इंजिनियरिंग रिसर्च इंस्टीच्युट (सिपेट), हाजीपुर
  5.          केंद्रीय औषधीय शिक्षा एवं शोध संस्थान (नाइपर), हाजीपुर
  6.          होटल प्रबंधन, खानपान एवं पोषाहार संस्थान, हाजीपुर
  7.          प्राकृत जैनशास्त्र एवं अहिंसा संस्थान, वैशाली
  8.    शेरिकलचर इंसटीचयूट भागलपुर


Comments

Popular posts from this blog

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना

बिहार कृषि डीजल अनुदान योजना

जाति, आवासीय, एवं आय प्रमाणपत्र आवेदन